Connect with us

BUSINESS

मिनटों में सबसे सस्ते दर पर फ्लाइट टिकट उपलब्ध कराने वाला एप “द बुक फ्लाइट”

Published

on

एरोप्लेन का टिकट काटने के लिए अब आपको किसी एजेंट पर निर्भर रहने की जरूरत नही है. फ्लाइट टिकट काटने के लिए आपके प्ले स्टोर पर मौजूद कई एप ग्राहकों से टिकट पर लंबी – चौड़ी कमीशन लेते है, ऐसे में आपको टिकट तो महंगा पड़ता ही है, साथ में टिकट काटने के लिए कई प्रक्रिया से भी गुजरना पड़ता है. टिकट काटने के इसी जटिल प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए आपके फोन के प्ले स्टोर पर उपलब्ध है ” दक फ्लाइट” बु एप

Advertisement

दरअसल यह एप प्ले स्टोर पर उपलब्ध अन्य एप से अलग और आसान है, मात्र कुछ ही स्टेप में आप “द बुक फ्लाइट” से टिकट काट पायेंगे, इसके लिए सबसे पहले आपको डिपार्चर और अराइवल का टाइम और डेट सेलेक्ट करना है, फिर आपको अपना फ्लाइट चुनना है, इसके बाद मात्र कुछ जरूरी जानकारी को भर कर पेमेंट करते ही आपकी फ्लाइट टिकट बुक हो जायेगी.

“द बुक फ्लाइट” एप को बनाने वाली कंपनी

Advertisement

टीबीएफ ऑनलाइन प्राइवेट लिमिटेड के “सीईओ” हाजीपुर के जधुआ निवासी आकाश कुमार हैं, युवा उद्यमी आकाश ने साक्षात्कार में बताया, फ्लाइट टिकट को सस्ता और आसान बनाने के उद्देश्य से उन्होंने “द बुक फ्लाइट” एप बनाया है, आकाश को टूर और ट्रैवल कंपनी में काम करने का 7 वर्ष का अनुभव है, इन्हीं अनुभवों को इस्तेमाल में लाकर ग्राहक के लिए फ्लाइट टिकट काटने को आकाश अब आसान और किफायती कर रहे है.

बिहार के युवक द्वारा फ्लाइट टिकट के क्षेत्र में “द बुक फ्लाइट” एप बेहद सराहनीय कदम है, ऐसे स्टार्टअप कम्पनी की वजह से बिहार में स्टार्ट अप का वातावरण और प्रगाढ़ बन रहा है. बिहार में बने इस एप को खासकर बिहार के लोगो को डाउनलोड कर के बिहार के युवाओं के इस प्रयास को सराहना चाहिए.

Advertisement

फ्लाइट टिकट इंडस्ट्री में काम करने के दौरान आकाश ने फ्लाइट टिकट बुकिंग के बारीकियों को समझा उसके बाद “द बुक फ्लाइट” नाम की एप बनाई आज “द बुक फ्लाइट” एप फ्लाइट टिकट काटने के लिए एक विश्वसनीय एप बन गया है. आकाश जैसे, युवा उद्यमी अपने प्रयासों से बिहार में स्टार्ट अप को बढ़ावा दे रहे है.

App Link : The Book Flight

Advertisement
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

BUSINESS

अंडे और चिकन का करना चाहते हैं बिजनेस, पालें इस नस्ल की मुर्गी

Published

on

ग्रामीण क्षेत्रों में अंडे और चिकन का कारोबार तेजी से फल-फूल रहा है. गांवों में बढ़ रहे पोल्ट्री फॉर्म भी इसी का परिणाम है. मुर्गी पालन में ज्यादा अधिक राशि लगाने की जरूरत नहीं पड़ती है. कम राशि में आप भी मुर्गी पालन कर सकते हैं.

Plymouth Rock Chicken Breed Guide - Know Your Chickens

साल में 250 अंडे तक देती हैं प्लायमाउथ रॉक मुर्गियां

Advertisement

अगर आप अंडे और चिकन दोनों के कारोबार को एक साथ बढ़ावा देना चाहते हैं तो अपने बेड़े में प्लायमाउथ रॉक मुर्गियां को जरूर शामिल करें. प्लायमाउथ रॉक मुर्गियां साल में 250 अंडे तक देती हैं. एक अंडे का औसतन वजन 60 ग्राम तक होता है. बता दें इस मुर्गी का वजन 3 किलोग्राम तक होता है.

अमेरिकी नस्ल की इस मुर्गी का भारत में भी बड़े पैमाने पर पालन किया जाता है. व्यापार के लिहाज से इस नस्ल की मुर्गी को भारत में काफी अच्छा रेट किया जाता है. इसके मांस पर भी अच्छा खासा भाव मिल जाता है.

Advertisement

nps-builders

रॉक बर्रेड रॉक नाम से है इस मुर्गी की पहचान

भारत में इस मुर्गी को रॉक बर्रेड रॉक नाम से भी जाना जाता है. इसके मुर्गे का मांस भी बेहद स्वादिष्ट और स्वास्थ्य के लिहाज से बेहद फायदेमंद माना जाता है. यही वजह है कि बाजार में इसके मांस की कीमत अच्छी-खासी बनी रहती है. ऐसे में इस प्लायमाउथ रॉक नस्ल की मुर्गी आपको बेहद कम वक्त में ठीक-ठाक मुनाफा दिला सकती है.

Advertisement

विभिन्न बैंक से लोन भी प्राप्त कर सकते हैं

मुर्गी पालन के लिए आप विभिन्न बैंक से लोन भी प्राप्त कर सकते हैं. भारतीय स्टेट बैंक से भी पोल्ट्री फार्म के लिए लोन लिया जा सकता है. इसके लिए आपको मतदाता पहचान पत्र, पैन कार्ड, पासपोर्ट, आधार कार्ड समेत कई अन्य डॉक्यूमेंट्स की आवश्यकता होती है.

Advertisement

Source : Aaj Tak

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading

BUSINESS

घर में कितना रख सकते हैं कैश, जानिए क्या हैं इनकम टैक्स के नियम

Published

on

आम लोगों के मन में चलने वाले सवालों में एक सवाल यह भी होता है कि घर में कैश रखने की क्या कोई लिमिट है. आपको बता दें कि इसकी कोई सीमा नहीं है. आप जितना चाहे कैश घर पर रख सकते हैं. हालांकि, ऐसा भी नहीं है कि आपके ऊपर कोई कार्रवाई हो ही नहीं सकती. आयकर विभाग आपके घर पर फिर भी छापा मारा सकता है. आप जितना मर्जी चाहें कैश घर पर रखें लेकिन जब उसके बारे में आपसे पूछा जाए तो आपके पास पैसे का सोर्स होना चाहिए. इसका मतलब है कि जितना कैश आपके घर में है वह कहां से आया, क्या उसे डिस्क्लोज किया गया है.

इसके साथ ही अगर वो कैश टैक्स के दायरे में आता है तो क्या उस पर टैक्स दिया है. ये ऐसे कुछ सवाल हैं जिनका आपको सामना करना पड़ेगा. अगर आपके पास सोर्स को लेकर पुख्ता सबूत हैं और आपने उस पर टैक्स भी जमा किया हुआ है तो आपको घबराने की कोई जरूरत नहीं है.

Advertisement

RAMKRISHNA-MOTORS-IN-MUZAFFARPUR-CHAKIA-RAXUAL-MARUTI-

अगर आयकर विभाग आपके जवाब से संतुष्ट नहीं और आपके द्वारा दिए गए सोर्स संबंधी दस्तावेज में गड़बड़ी पाई जाती है या ये साबित हो जाता है कि आपने नियमों का उल्लंघन किया है तो आपको बड़ा हर्जाना भुगतना पड़ सकता है. आप पर घर में पाई कुल रकम का 137 फीसदी तक टैक्स लगाया जा सकता है.

अगर आप साल में 20 लाख रुपये से ज्यादा कैश बैंक में जमा करते हैं तो आपको पैन कार्ड और आधार कार्ड दिखाना होगा. आप ऐसा करने में अगर विफल होते हैं तो आप पर जुर्माना लगाया जा सकता है. वहीं, अगर आप बैंक से 1 साल में 1 करोड़ रुपये से अधिक कैश निकालते हैं तो आपको 2 फीसदी टीडीएस देना होगा. अगर आप एक दिन में बैंक से 50 हजार रुपये या उससे अधिक कैश निकालते हैं तो भी आपको पैनकार्ड दिखाना होगा.

Advertisement

अगर आफ 30 लाख रुपये से अधिक की प्रॉपर्टी कैश में खरीदते हैं तो उसके ऊपर जांच बैठ सकती है. आप 2 लाख रुपये ऊपर की कोई भी खरीदारी केवल कैश से नहीं कर सकते. ऐसा करने पर आपको आधार कार्ड और पैन कार्ड दिखाना होगा. डेबिट कार्ड में 1 लाख रुपये से अधिक के दैनिक ट्रांजेक्शन पर जांच हो सकती है. आपको अगर किसी रिश्तेदार से में 1 दिन में 2 लाख रुपये से अधिक लेने हैं तो भी आपको बैंक के जरिए ये काम करना होगा. अगर आप कोई डोनेशन भी करना चाहते हैं तो 2,000 रुपये से अधिक दान कैश के माध्यम से नहीं कर सकते.

Source : News18

Advertisement

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading

BUSINESS

पैसों की जरूरत हो तो लोन की जगह लें ये सुविधा; होगा बड़ा फायदा

Published

on

अक्सर जब पैसों की जरूरत होती है तो हम सब या तो दोस्तों या रिश्तेदारों से कर्ज लेते हैं या फिर बैंक के पास लोन के लिए अप्लाई करते हैं। लेकिन क्या आपने कभी ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी (overdraft facility) के बारे में सुना है। अगर नहीं तो ये जान लीजिए कि ये ऐसी सुविधा है जिसके तहत आप अपने खाते में मौजूद रकम से ज्यादा पैसा निकाल सकते हैं। रह गए न हैरान ! आप सोच रहे होंगे कि ऐसा कैसे मुमकिन है ! लेकिन यह बिल्कुल संभव है। आपको बस कुछ जरूरी शर्तें फॉलो करनी होंगी। हम आपको बताते हैं कि क्या है ये ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी और यह आपको कैसे मिलेगी।

Genius-Classes

क्या है Overdraft Facility

Advertisement

आमतौर पर हम सोचते हैं कि हम अपने बैंक अकाउंट से उतना ही पैसा निकाल सकते हैं, जितना उसमें जमा है। लेकिन, कई बैंक और नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियां (NBFC) अपने ग्राहकों को मौैजूद रकम से ज्यादा पैसे निकालने की सुविधा देती हैं। इसे ही ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी कहते हैं। इसका फायदा तब मिलता है जब आपको पैसे की अचानक जरूरत पड़ जाए। दरअसल, यह एक तरह का लोन ही है। इसके तहत आप बैंक अकाउंट में मौजूद बैलेंस से ज्यादा पैसे निकाल सकते हैं।

कब तक वापस करना होगा पैसा

Advertisement

आप जितना अमाउंट निकालते है, उसे एक निश्चित अवधि के भीतर चुकाना होता है। ऐसा न करने पर ब्याज भी लगता है। यह ब्याज रोजमर्रा आधार पर कैलकुलेट होता है। आपको कितना ओवरड्राफ्ट मिलेगा यानी इसकी लिमिट क्या रहेगी, यह बैंक या NBFCs तय करते है। अलग-अलग बैंकों और नॉन बैंकिंग कंपनियों में यह लिमिट अलग-अलग हो सकती है।

कैसे मिलती है यह फैसिलिटी

Advertisement

बैंक और नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियां अपने कुछ कस्‍टमर्स को यह सुविधा प्री-अप्रूव्ड देते हैं। जबकि कुछ ग्राहकों को इसके लिए अलग से आवेदन करना होता है। आप बैंक की ब्रांच या इंटरनेट बैंकिंग के जरिए भी अप्‍लाई कर सकते हैं। कुछ बैंक इस सर्विस के लिए फीस भी लेते हैं। इसलिए बेहतर है कि ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी के लिए अप्‍लाई करने से पहले प्रोसेसिंग फीस के बारे में जानकारी प्राप्त कर लें। आमतौर पर बैंक सैलरी अकाउंट के बदले भी ओवरड्राफ्ट देते हैं। आपकी ओवरड्राफ्ट लिमिट सैलरी का 2 से 3 गुना हो सकती है। इस तरह के ओवरड्राफ्ट सुविधा के लिए आपका सैलरी अकाउंट उसी बैंक में होना चाहिए. जिससे आप ओवरड्राफ्ट लेना चाहते हैं।

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

कितने तरह की होती है फैसिलिटी

Advertisement

ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी दो तरह की होती है, एक सिक्योर्ड और दूसरी नॉन अनसिक्योर्ड। सिक्योर्ड ओवरड्राफ्ट वह है, जिसमें सिक्योरिटी के तौर पर कुछ गिरवी रखा जाता है, जैसे FD, शेयर, घर, सैलरी, इंश्योरेंस पॉलिसी आदि। अगर आपके पास कुछ भी सिक्योरिटी के तौर पर देने के लिए नहीं है तो भी आप ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी ले सकते हैं, लेकिन इसका तरीका अलग है। क्रेडिट कार्ड से पैसा निकालना अनसिक्योर्ड ओवरड्राफ्ट का उदाहरण है। पर्सनल लोन के मुकाबले ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी अच्छा विकल्प है। तय अवधि से पहले भी बिना कोई चार्ज दिए आप बैंक को पैसे वापस कर सकते हैं। ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी में आपको ब्याज भी केवल उतने ही समय का देना होता है, जितने वक्त तक आपने ओवरड्राफ्ट अमाउंट अपने पास रखा है।

Source : Dainik Jagran

Advertisement

nps-builders

Continue Reading
VIRAL4 hours ago

पिता ने ज्यादा दहेज़ दिया तो महिला ने पति-सास के लिए खाना बनाने से किया इंकार, कहा- नौकरानी रख लो

BIHAR10 hours ago

वौष्णों देवी जा रही बस खाई में गिरी, बिहार के 10 लोगों की मौत, 56 घायल

INDIA1 day ago

नेविगेशन सैटेलाइट एनवीएस-1 का प्रक्षेपण सफल, अब सेना होगी और सशक्त

BIHAR1 day ago

बिहार : घर के कुत्ते ने सुलझाया रेप-मर्डर का ब्लाइंड केस, फिर ऐसे क्रिमिनल तक पहुंची पुलिस

BIHAR1 day ago

राजद के बयान पर सुशील मोदी का पलटवार, बोले- 2024 में RJD-JDU के लिए ताबूत की एडवांस बुकिंग शुरू

SPORTS2 days ago

CSK और GT फैंस के लिए खुशखबरी, आज IPL Final में बारिश नहीं डालेगी खलल; जानें मौसम का हाल

MUZAFFARPUR2 days ago

इंद्रप्रस्थ स्कूल में समर कैंप तथा अंतरराष्ट्रीय विनिमय कार्यक्रम का आयोजन

INDIA2 days ago

हिरासत में लिए गए पहलवान, जंतर-मंतर से दिल्ली पुलिस ने उखाड़े तंबू

BIHAR3 days ago

अब सिग्नल तोड़ने पर ई-चालान के साथ जाएगी वाहन की तस्वीर

BIHAR3 days ago

अब मोबाइल पर मिलेगी मौसम की सटीक जानकारी, सीएम नीतीश कुमार ने ‘मौसम बिहार’ मोबाइल ऐप किया लॉन्च

BOLLYWOOD5 days ago

60 साल की उम्र में दूसरी बार दूल्हा बने अभिनेता आशीष विद्यार्थी

MUZAFFARPUR2 weeks ago

बाबा गरीबनाथ की नगरी में दिव्य दरबार लगाएंगे बागेश्वर सरकार! स्थल निरिक्षण करने पहुंची टीम

BIHAR1 week ago

8 साल पहले सिर से उठा था पिता का साया, बेटी ने IAS टॉपर बन लौटाई मां की मुस्‍कान

INDIA2 weeks ago

बिना कोचिंग-ट्यूशन मजदूर की बेटी बनी टॉपर, 500 में पाए 496 नंबर, आईपीएस बनने का सपना

BIHAR3 weeks ago

वैशाली में NH-28 पर भीषण सड़क हादसा, ओवरटेक कर रही कार ट्रक से जा भिड़ी; एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत

SPORTS4 weeks ago

गौतम गंभीर से लड़ाई के बाद विराट कोहली का पहला बयान आया सामने

VIRAL2 weeks ago

हैवानियत : न कांपे हाथ न पसीजा कलेजा, इकलौते बेटे ने मां-बाप को तड़पा-तड़पाकर मारा

BIHAR1 week ago

UPSC में बिहार की बादशाहत कायम … बक्सर की बेटी गरिमा लोहिया को मिला दूसरा रैंक

AUTOMOBILES2 weeks ago

10 साल की वारंटी और कीमत बेहद कम! हौंडा ने इन राज्यों में स्पेशल प्राइस में लॉन्च की ये सस्ती बाइक

EDUCATION3 weeks ago

CBSE रिजल्ट में इंद्रप्रस्थ इंटरनेशनल स्कूल ने कायम किया कीर्तिमान, 60 से ज्यादा बच्चों ने पाए 90% से अधिक अंक

Trending