Connect with us

INDIA

एग्जिट पोल के बाद EVM पर तकरार बढ़ी, भाजपा ने की सुरक्षा बढ़ाने की मांग

Published

on

विपक्ष के आरोपों के बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सोमवार को कहा कि एग्जिट पोल में ईवीएम का कोई योगदान नहीं होता है। ऐसे में अगर आम चुनाव का वास्तविक परिणाम भी अगर एक्जिट पोल के अनुरूप रहता है तब विपक्ष द्वारा उठाए गए फर्जी ईवीएम मुद्दे का भी अस्तित्व नहीं रह जाएगा।

अपने ब्लॉग ‘एक्जिट पोल का संदेश’ में जेटली ने उम्मीद जताई 2019 का चुनाव परिणाम इस संबंध में आए एक्जिट पोल के अनुरूप होगा। विभिन्न पोल में एक समान संदेश है। इसमें भाजपा नीत एनडीए के दोबारा सत्ता में आने का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है।

Advertisement

उन्होंने कहा, अगर एक्जिट पोल 2014 के चुनाव परिणाम की तरह होते हैं तो यह स्पष्ट हो जाएगा कि भारतीय लोकतंत्र परिपक्व हो गया है। मतदाता अपनी पसंद चुनने से पहले राष्ट्रीय हितों को सर्वोपरि मानते हैं। आम चुनाव 2019 के लिए रविवार शाम जारी एक्जिट पोल के मुताबिक फिर एनडीए बहुमत से केंद्र में सरकार बनाता दिख रहा है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि मतदाता अब प्रतिद्वंद्वियों के गठबंधन पर भरोसा करने को तैयार नहीं हैं।

लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले आए एग्जिट पोल को लेकर सरकार और विपक्ष के बीच तकरार बढ़ गई है। एक तरफ जहां कांग्रेस ने एग्जिट पोल को खारिज करते हुए कहा कि पोल के नतीजे सही साबित हुए तो इसका मतलब है ईवीएम में धांधली हुई है। वहीं, भाजपा का कहना है लोकसभा चुनाव के परिणाम एक्जिट पोल के अनुरूप ही होंगे।

Advertisement

ईवीएम की सुरक्षा कड़ी करे आयोग: भाजपा

सर्वेक्षणों में बहुमत मिलने के अनुमानों से उत्साहित भाजपा को विपक्षी दलों के शासन वाले राज्यों में मतगणना में हेरफेर की आशंका सताने लगी है। पार्टी नेता एवं केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण व पीयूष गोयल ने सोमवार को चुनाव आयोग से आग्रह किया बंगाल, ओडिशा, कनार्टक, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में ईवीएम की सुरक्षा कड़ी की जाए। वोटों की गिनती का काम केंद्रीय चुनाव आयोग की निगरानी में पारदर्शी एवं सुरक्षित ढंग से सुनिश्चित किया जाए।

Advertisement

विपक्ष का आत्मचिंतन करना चाहिए: शाहनवाज

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि एक्जिट पोल तो सिर्फ झांकी है। 23 मई को असली तस्वीर आएगी। भाजपा को पूर्ण बहुमत मिलेगा एवं एनडीए दो तिहाई बहुमत प्राप्त करेगा। अब कांग्रेस एवं अन्य विपक्षी दलों को नकारात्मकता पर आत्मचिंतन करना चाहिए। शाहनवाज ने दावा किया कि पार्टी पन्ना प्रमुखों की रिपोर्ट के आधार पर हम कह सकते हैं कि भाजपा को 300 से अधिक *सीटें प्राप्त होंगी।

Advertisement

यही नतीजे आए तो धांधली हुई है : कांग्रेस

लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजों से पहले भाजपा के पक्ष में आए एक्जिट पोल को विपक्ष ने खारिज कर दिया है। कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने बयान दिया है कि अगर एक्जिट पोल के नतीजे सही साबित होते हैं, तो इसका मतलब ईवीएम में धांधली हुई है।

Advertisement

एक चैनल से बातचीत पर अल्वी ने कहा कि सभी एग्जिट पोल एकतरफा नतीजे दिखा रहे हैं, इसलिए हम उसपर भरोसा नहीं कर रहे हैं। अगर एक्जिट पोल जैसे रिजल्ट आते हैं तो हमारा मानना है कि पिछले दिनों तीन राज्यों के चुनाव में जहां-जहां कांग्रेस जीती है वह एक साजिश थी। तीन राज्यों में कांग्रेस की जीत के साथ ये भरोसा दिलाया गया कि ईवीएम सही है। इससे यह भी साबित करने की कोशिश हुई कि चुनाव आयोग पर सरकार का कोई दखल नहीं है। राशिद अल्वी ने एक्जिट पोल करने वाली कंपनियों पर भी सवाल खड़ा किया है।

नतीजों को कयास बता किया खारिज :केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने केंद्र में एनडीए के एक बार फिर सरकार बनाने का पूर्वानुमान लगाने वाले एक्जिट पोल को नकार दिया। उन्होंने सोमवार को कहा कि अटकलों पर आधारित अटकलबाजी पर भरोसा करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Advertisement

पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने माकपा नेतृत्व वाले वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) के लोकसभा चुनाव में बेहतरीन प्रदर्शन करने का आश्वासन जताया। एक्जिट पोल ने केरल में वाम मोर्चे के खराब प्रदर्शन पूर्वानुमान लगाया है। उन्होंने कहा कि एक्जिट पोल के चुनाव नतीजों का सही आकलन करने में गलत साबित होने के कई उदाहरण हैं। 2004 में अधिकतर एक्जिट पोल ने केंद्र में दोबारा एनडीए सरकार के आने की बात कही थी, लेकिन वह गलत साबित हुए। विजयन ने कहा कि वह 23 मई तक इंतजार करेंगे।

टीएमसी को जीत का भरोसा

Advertisement

कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस ने सोमवार को एक्जिट पोल को अटकलें करार देते हुए कहा कि जिलों और सभी निर्वाचन क्षेत्रों से मिली आंतरिक रिपोर्टों के अनुसार इस बार भी उनकी जीत होगी।

एक्जिट पोल के अनुमानों से हैरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने तृणमूल की जीत का दावा करते हुए कहा कि वह नई सरकार के गठन में प्रमुख भूमिका निभाएगी। इसके लिए वह विभिन्न विपक्षी दलों के संपर्क में हैं।

Advertisement

Input : Hindustan

Advertisement
Advertisement

INDIA

ओडिशा रेल हादसे की जांच करेगी CBI, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव का बड़ा ऐलान

Published

on

ओडिशा रेल हादसे की सीबीआई जांच की सिफारिश रेलवे ने कर दी है. ये जानकारी रविवार को रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने भुवनेश्वर में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान दी. उन्होंने बताया कि मेन लाइन पर मरम्मत का काम पूरा हो चुका है. विद्युतीकरण का काम अभी भी जारी है. रेलवे घायल और मृतकों के परिजनों के संपर्क में है. रेलवे ने सिफारिश की है कि जांच सीबीआई से कराई जाए. सभी परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए आगे की जांच के लिए सीबीआई को सौंपा जाएगा. इसकी सिफारिश रेलवे बोर्ड की तरफ से किया जा रहा है.

बता दें कि ओडिशा के बालासोर में जहां ट्रेन हादसा हुआ है, वहां चौबीसों घंटे काम युद्धस्तर पर चल रहा है. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव लगातार घटनास्थल पर मौजूद हैं. सैकड़ों रेल कर्मी, राहत बचाव दल के जवान, टेक्नीशियन्स से लेकर इंजीनियर्स तक दिन रात काम कर रहे हैं. हादसे के बाद घटनास्थल पर जो हालात थे, वो तेजी से बदलते जा रहे हैं. पटरी पर बिखरी बोगियां अब हटाकर किनारे की जा चुकी हैं. हादसे के बाद दोनों एक्सप्रेस ट्रेन और मालगाड़ी के बचे हुए डिब्बे भी पटरी से हटाए जा चुके हैं. बोगियों में फंसे लोगों को पहले ही निकाला जा चुका है और अब ट्रैक के रिस्टोरेशन का काम तेजी से चल रहा है.

Advertisement

बताते चलें कि रेल मंत्री ने भले ही हादसे की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की हो, लेकिन साथ ही रेलवे सुरक्षा आयोग की जांच भी जारी रहेगी. रेल मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि सभी एंगल से जांच की जरूरत है, इससे इनकार नहीं किया जा सकता है. यह पहली बार नहीं है जब किसी रेल हादसे की सीबीआई जांच शुरू की गई है.

टीएमसी ने रेल मंत्री के बयान को लेकर सवाल उठा हैं. पार्टी के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि सीबीआई जांच का आदेश देना पूरी तरह से नौटंकी है. लोगों को गुमराह करना है. रेलवे की लापरवाही पर पर्दा डालने के लिए कुछ लोगों की बलि चढ़ जाएगी. रेलवे विभाग जो कहना चाहता है, वह सीबीआई को बताया जाएगा. क्योंकि, रेलवे और सीबीआई, दोनों के शीर्षस्थों का नियंत्रण एक ही स्थान पर है. सीबीआई को मूल शिकायत तक नहीं पहुंचने दिया जाएगा.

Advertisement

उन्होंने कहा कि सीबीआई जांच अपने हाथ में रखे. वहां कई कुशल अधिकारी हैं. लेकिन बीजेपी ऊपर से प्रभाव डालती है. क्या कुछ लोगों के कंधों पर जिम्मेदारी डालकर रेलवे विभाग की लापरवाही से बचने के लिए यह चालाकी भरा और प्रचार-प्रसार का कदम है? रेलवे और सीबीआई, दोनों का रिमोट कंट्रोल एक ही हाथ में है. इस जांच का उद्देश्य और निष्कर्ष जानने के लिए.

ओडिशा के बालासोर में हुए रेल हादसे को 2 दिन बीत चुके हैं. 2 दिनों से लगातार चौबीसों घंटे घटनास्थल पर राहत बचाव कार्य चल रहा है. दो दिनों के बाद ट्रेन की बोगियों में फंसे सारे शव निकाले जा चुके हैं. हादसे में 275 लोगों की मौत हुई है, जबकि घायलों की संख्या 1100 से अधिक है. अस्पतालों में लावारिस शवों के ढेर लगे हुए हैं. आलम ये है कि अस्पतालों के मुर्दाघरों में जगह नहीं बची है. शवों की संख्या को देखते हुए स्कूल और कोल्ड स्टोरेज को मुर्दाघर में तब्दील कर दिया गया है.

Advertisement

शुक्रवार शाम ऐसे हुआ हादसा

ओडिशा के बालासोर में शुक्रवार की शाम करीब 7 बजे बालासोर के बहानगा रेलवे स्टेशन पर दो ट्रेन और एक मालगाड़ी की आपस में टक्कर हो गई थी. रेलवे की तरफ से कहा गया कि ट्रेन नंबर 12481 कोरोमंडल एक्सप्रेस बहानगा बाजार स्टेशन के (शालीमार-मद्रास) मेन लाइन से गुजर रही थी, उसी वक्त अप लूप लाइन पर वो मालगाड़ी से टकरा गई. ट्रेन पूरी रफ्तार (फुल स्पीड) में थी और उसे स्टेशन पर रोकना संभव नहीं था. इसका परिणाम ये हुआ कि 21 कोच डीरेल हो गए और 3 कोच डाउन लाइन पर चले गए. हर स्टेशन पर दूसरी ट्रेन पास कराने के लिए लूप लाइन होती है. बहानगा बाजार स्टेशन पर अप और डाउन, दो लूप लाइन हैं. किसी भी ट्रेन को लूप लाइन पर तब खड़ा किया जाता है, जब किसी ट्रेन को स्टेशन से पास कराया जाना हो.

Advertisement

इसी समय डाउन लाइन की ट्रेन 12864 यशवंतपुर-हावड़ा एक्सप्रेस बहानगा बाजार स्टेशन से गुजर रही थी और उसकी कोरोमंडल से टक्कर हो गई. इसके बाद हावड़ा एक्सप्रेस के दो डिब्बे पटरी से उतर गए. रेलवे की तरह से बताया गया है कि कोरोमंडल एक्सप्रेस में 1257 लोगों ने रिजर्वेशन कराया था जबकि हावड़ा यशवंत पुर एक्सप्रेस में 1039 लोगों ने रिजर्वेशन कराया था. बहानगा बाजार स्टेशन पर भी कोरोमंडल एक्सप्रेस और यशवंतपुर हावड़ा एक्सप्रेस को पास कराने के लिए मालगाड़ी को कॉमन लूप लाइन पर खड़ा कराया गया था. कोरोमंडल एक्सप्रेस तेज रफ्तार से मेन अप लाइन से गुजर रही थी. उस समय डाउन लाइन से यशवंतपुर-हावड़ा एक्सप्रेस भी गुजर रही थी.

Source: Aaj Tak

Advertisement

nps-builders

Continue Reading

INDIA

‘हादसा विचलित करने वाला, दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा’, बालासोर में बोले PM मोदी

Published

on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा हादसे के हालात की समीक्षा के लिए शनिवार को उच्च स्तरीय बैठक की। बैठक में गृह मंत्री अमित शाह और सरकार के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। इसके अलावा भाजपा ने अपने कार्यक्रम रद्द कर दिए। इनमें मोदी सरकार के नौ साल पूरे होने से जुड़े कार्यक्रम भी शामिल रहे।

दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा प्रधानमंत्री

Advertisement

बालासोर, एजेंसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि ओडिशा रेल दुर्घटना के लिए दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। मोदी घटनास्थल पर पहुंचे और पीड़ितों से अस्पताल में मुलाकात की। वहीं, दुर्घटनास्थल पर रवाना होने से पहले प्रधानमंत्री ने उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।

प्रधानमंत्री ने अस्पताल का दौरा करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि हम घायलों को सर्वश्रेष्ठ उपचार मुहैया कराएंगे। उन्होंने लोगों को बचाने में मदद के लिए स्थानीय लोगों का भी आभार व्यक्त किया, जिनमें से कई लोगों ने रातभर काम किया। हादसे के बारे में उन्होंने कहा, मेरे पास पीड़ा व्यक्त करने के लिए शब्द नहीं हैं। ईश्वर हमें इस स्थिति से उबरने की शक्ति दे। पीएम ने घटनास्थल से कैबिनेट सचिव और स्वास्थ्य मंत्री से फोन पर बात की। स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने बताया कि एम्स भुवनेश्वर के डॉक्टर बालासोर और कटक भेजे गए हैं।

Advertisement

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा हादसे के हालात की समीक्षा के लिए शनिवार को उच्च स्तरीय बैठक की। बैठक में गृह मंत्री अमित शाह और सरकार के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। इसके अलावा भाजपा ने अपने कार्यक्रम रद्द कर दिए। इनमें मोदी सरकार के नौ साल पूरे होने से जुड़े कार्यक्रम भी शामिल रहे।

nps-builders

Advertisement
Continue Reading

INDIA

साक्षी को 34 चाकू मारने वाले साहिल को नहीं पछतावा, बोला- सिखाया सबक

Published

on

दिल्ली के शाहबाद डेरी इलाके में 16 साल की लड़की साक्षी को 34 बार चाकू मारकर पत्थर से कुचलने वाले हैवान साहिल खान को अपनी करतूत पर कोई पछतावा नहीं है। साहिल का कहना है कि उसने साक्षी को सबक सिखा दिया है। पूछताछ में साहिल ने कुछ वेबसीरीज का भी नाम लिया है। जिसके बाद सवाल उठ रहा है कि क्या उसने किसी साइको किलर वाली वेबसीरीज को देखने के बाद इस तरह के खौफनाक वारदात को अंजाम दिया।

साक्षी की हत्या के बाद बुलंदशहर से गिरफ्तार किए गए साहिल से दिल्ली पुलिस ककी एक टीम लगातार पूछताछ कर रही है। 2 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजे गए साहिल से हत्या का हर राज उगलवाने की कोशिश की जा रही है। पुलिस उससे ऑन कैमरा पूछताछ कर रही है। साहिल से राज उगलवाने के लिए पुलिस ने एक स्पेशल टीम बनाई है जिसमें वरिष्ठ अधिकारियों के अलावा कुछ मनोवैज्ञानिक भी शामिल किए गए हैं। साहिल जितना क्रूर है उतना ही शातिर भी है। वह बार-बार पुलिस को गुमराह करने की कोशिश करता है। हालांकि, अब तक की पूछताछ में पुलिस ने घटना से जुड़े कई अहम सवाल के जवाब उससे उगलवाए हैं।

Advertisement

सूत्रों के मुताबिक, साहिल ने पूछताछ में कुछ वेबसीरीज का भी नाम लिया है। बताया जा रहा है कि उसने कुछ वेबसीरीज को देखकर इस तरह से वारदात को अंजाम देने का आइडिया लिया। पुलिस इस हत्या के ओटीटी कनेक्शन की भी पड़ताल कर रही है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने जब उससे यह पूछा कि उसने लड़की को क्यों मारा तो उसने दो टूक जवाब दिया, ‘मैंने साक्षी को सबक सिखा दिया। मुझे कोई पछतावा नहीं है।’

पुलिस ने जब उससे पूछा कि उसने इतनी बेरहमी से क्यों मारा तो बोला- मैं बता नहीं सकता। क्या साक्षी से झगड़ा हुआ था? इसके जवाब में साहिल ने कहा- मुझे कुछ नहीं बोलना। क्या साक्षी को पहले से जानते थे? इस सवाल का जवाब साहिल ने हां में दिया। कत्ल का आइडिया कहां से आया? इसके जवाब में कातिल ने कहा, ‘बस मारना था और मैंने मार दिया।’ साहिल ने अभी तक यह नहीं बताया है कि हत्या में इस्तेमाल चाकू उसने कहां फेंका है।

Advertisement

Source : Hindustan

nps-builders

Advertisement
Continue Reading
BIHAR2 hours ago

‘नीतीश की हालत अंधों में काना राजा वाली’ प्रशांत किशोर ने सीएम नीतीश पर साधा निशाना

INDIA2 days ago

ओडिशा रेल हादसे की जांच करेगी CBI, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव का बड़ा ऐलान

MUZAFFARPUR2 days ago

बीपी इंद्रप्रस्थ इंटरनेशनल स्कूल में समर कैंप का समापन, विधायक अमर पासवान रहे मौजूद

MUZAFFARPUR3 days ago

मुजफ्फरपुर : दामाद की हत्या में सास को आजीवन कारावास की सजा

INDIA3 days ago

‘हादसा विचलित करने वाला, दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा’, बालासोर में बोले PM मोदी

BIHAR6 days ago

बिहार के 9 जिलों में हीट वेव का अलर्ट, चलेगी गर्म पछुआ हवा

BIHAR6 days ago

नौकरी नहीं मिलने से परेशान युवक ने गला काट कर की आत्महत्या, बेसहारा मां का था एकलौता चिराग

VIRAL6 days ago

मोबाइल के लिए शौहर को छोड़ आई सबा .. सोशल मीडिया चलाने से रोकने पर साले ने तान दी बन्दूक

WORLD7 days ago

देश के मुसलमानों की हालत दलितों जैसी, US में बोले राहुल गांधी; बयान पर फिर मचा बवाल

INDIA7 days ago

साक्षी को 34 चाकू मारने वाले साहिल को नहीं पछतावा, बोला- सिखाया सबक

BOLLYWOOD2 weeks ago

60 साल की उम्र में दूसरी बार दूल्हा बने अभिनेता आशीष विद्यार्थी

MUZAFFARPUR3 weeks ago

बाबा गरीबनाथ की नगरी में दिव्य दरबार लगाएंगे बागेश्वर सरकार! स्थल निरिक्षण करने पहुंची टीम

BIHAR2 weeks ago

8 साल पहले सिर से उठा था पिता का साया, बेटी ने IAS टॉपर बन लौटाई मां की मुस्‍कान

INDIA3 weeks ago

बिना कोचिंग-ट्यूशन मजदूर की बेटी बनी टॉपर, 500 में पाए 496 नंबर, आईपीएस बनने का सपना

BIHAR1 week ago

वौष्णों देवी जा रही बस खाई में गिरी, बिहार के 10 लोगों की मौत, 56 घायल

BIHAR2 weeks ago

UPSC में बिहार की बादशाहत कायम … बक्सर की बेटी गरिमा लोहिया को मिला दूसरा रैंक

VIRAL3 weeks ago

हैवानियत : न कांपे हाथ न पसीजा कलेजा, इकलौते बेटे ने मां-बाप को तड़पा-तड़पाकर मारा

AUTOMOBILES3 weeks ago

10 साल की वारंटी और कीमत बेहद कम! हौंडा ने इन राज्यों में स्पेशल प्राइस में लॉन्च की ये सस्ती बाइक

BIHAR2 weeks ago

कुंवारा बताकर कुंवारी लड़की से शादी कर लिया 2 बच्चों का बाप, जानिए क्या हुआ जब खुला राज

EDUCATION4 weeks ago

CBSE रिजल्ट में इंद्रप्रस्थ इंटरनेशनल स्कूल ने कायम किया कीर्तिमान, 60 से ज्यादा बच्चों ने पाए 90% से अधिक अंक

Trending